विवेक से विवेक की सुनो Vivek Se Vivek Ki Suno lyrics in Hindi

Vivek Se Vivek Ki Suno -Dr. Vivek Bindra - Kailash Kher Lyrics


Vivek Se Vivek Ki Suno (Official Video ) | Ft. Kailash Kher & Dr. Vivek Bindra
Singer Kailash Kher
Composer Kailash Kher
Music Kailash Kher
Song WriterKailash Kher

विवेक से विवेक की सुनो Vivek Se Vivek Ki Suno lyrics in Hindi is a new song, sung by Kailash Kher. Kailash Kher dedicated this song to an International Motivational Speaker Dr. Vivek Bindra who is the co- founder of BadaBusiness.com. The original video song is available on Dr. Vivek Bindra's official Youtube Channel.

Lyrics

सुनो सुनो - सुनो
एक से अनेक की सुनो
विवेक से विवेक की सुनो

जागे हुए सोना, सोये हुए जागना
जलना अजल से, ठहरे हुए भागना

अगन से भीगना, आँख मूँद देखना
बिना बोले बोलना, पग बिना टापना

भीड़ है,गर्द है, मज़ा है, दर्द है
बात एक, एक की सुनो
विवेक से विवेक की सुनो

क्रोध हो तो हँसना, ईर्ष्या हो तो तपना
दूसरों की गलतियों से , ख़ुद बहुत सीखना

चिंता में चिन्तन है, मना में मनन है
प्राप्त है पर्याप्त है, शह भी है मात है

मद क्या, मदद क्या,
हद क्या, अनहद क्या
अंतर्मन के वेग की सुनो

विवेक से विवेक की सुनो
एक से अनेक की सुनो


Vivek Se Vivek Ki Suno (Official Video ) | Ft. Kailash Kher & Dr. Vivek Bindra Watch Video

Post a Comment

0 Comments